मध्य प्रदेश

चुनाव आचार संहिता में अटकी वीआईपी रोड की फाइल, अब फिर निकलेगी

भोपाल

वीआईपी रोड को आठ लेन करने की योजना एक बार फिर चर्चा में आ गई है। नई सरकार के गठन होते ही इस पर अमल शुरू हो जाएगा। 6.71 किमी लंबी इस रोड पूरा करने में 3155 करोड़ के आसपास खर्च होने की संभावना है।

एक्सटेंशन में यह दिक्कत
वीआईपी रोड के एक्सटेंशन के लिये बड़े तालाब में पिलर डाल कर काम करना होगा। लेकिन इस मामले में एनजीटी के निर्देश आड़े आ रहे हैं। एनजीटी ने स्पष्ट कहा है कि लेक के कैचमेंट एरिया के 50 मीटर में कोई पक्का निर्माण नहीं होगा। इसके चलते इस योजना के लिये अलग से जगह निकालनी कठिन होगी।

यह है योजना
वीआइपी रोड को आठ लेन में बनाए जाने की योजना है।
इस प्रोजेक्ट को भी कैबिनेट से मंजूरी मिल चुकी है।
आगामी तीन साल में इनका निर्माण पूरा किया जाना है।
इसे भी हाइब्रिड एन्युटी मोड पर बनाया जाएगा।
ये कमलापार्क से शुरू होकर वीआइपी रोड के समानांतर बनेगा।
इसके दो भाग होंगे। पहला भाग खानूगांव क्षेत्र से इंदौर रोड और दूसरा एयरपोर्ट के लिए होगा।

वीआईपी रोड पर ही नहंी शहर के सभी रोड पर गाड़ियों का लोड बढ़ रहा है। वीआईपी रोड आने वाले समय की जरूरतों को पूरी करने के लिये बड़ा रोल अदा कर सकता है इसके लिये इसका  एक्सटेंशन जरूरी है। इससे पुराने शहर में कई बार गाड़ियों को जाने की आवश्यकता नहीं होती है।

मोहम्मद इस्माइल, एक्सपर्ट ट्रैफिक मैनेजमेंट  बीयू

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button