देश

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव बाइक पर बैठ ग्राउंड जीरो पर पहुंचे, घायलों का जाना हाल

कोलकाता
 रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोमवार दोपहर पश्चिम बंगाल में न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन के पास रंगापानी में ट्रेन दुर्घटना स्थल का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। सड़क बड़े वाहनों के चलने के लिहाज से संकरी होने के कारण रेल मंत्री को दुर्घटना स्थल तक पहुंचने के लिये कुछ दूरी मोटरसाइकिल के पीछे बैठकर तय करनी पड़ी। दरअसल रंगापानी स्टेशन के पास सोमवार को सियालदह जाने वाली कंचनजंगा एक्सप्रेस से मालगाड़ी की टक्कर में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई और करीब 60 अन्य घायल हो गए। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि टक्कर के कारण एक्सप्रेस ट्रेन के पीछे के तीन डिब्बे पटरी से उतर गए। उत्तर बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन से करीब 30 किलोमीटर दूर स्थित घटनास्थल पर बचाव अभियान जारी है और घायलों को नजदीकी अस्पतालों में पहुंचाया जा रहा है।

रेल मंत्री ने आर्थिक मदद का किया ऐलान
इससे पहले रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी में हुए ट्रेन हादसे में मरने वालों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। इसकी घोषणा रेल मंत्री ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स के जरिए दी है। उन्होंने सोमवार को एक्स पर लिखा कि पीड़ितों को बढ़ी हुई अनुग्रह राशि प्रदान की जाएगी। मृत्यु की स्थिति में 10 लाख रुपये और गंभीर रूप से चोटिल को 2.5 लाख रुपये और मामूली रूप से घायलों को 50,000 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

रेल मंत्री ने जताया दुख
इससे पहले रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने हादसे पर दुख जताते हुए एक्स पर लिखा कि रेलवे के एनएफआर जोन में दुर्भाग्यपूर्ण हादसा हुआ है। बचाव कार्य युद्धस्तर पर जारी है। रेलवे, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ पूरे तालमेल के साथ काम कर रहे हैं। घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है।

Related Articles

प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी किया मदद का ऐलान
वहीं कंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने मृतकों के परिवार वालों को 2 लाख रुपये और घायलों की 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक्स पर लिखा कि प्रधानमंत्री मोदी ने घोषणा की है कि पश्चिम बंगाल में रेल दुर्घटना में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

विपक्षी दलों सरकार को घेरा
विपक्षी दलों ने सरकार पर जोरदार हमला बोला है. कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन दुर्घटना पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, "…उन्हें (रेलवे मंत्रालय) यात्रियों की सुविधाओं की परवाह नहीं है. उन्हें रेलवे अधिकारियों, रेलवे इंजीनियरों, रेलवे तकनीकी कर्मचारियों और श्रमिकों की भी परवाह नहीं है. वे भी परेशानी में हैं. उनकी पुरानी पेंशन वापस ले ली गई है. मैं पूरी तरह से रेलवे कर्मचारियों और रेलवे अधिकारियों के साथ हूं. वे अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं. लेकिन इस सरकार को केवल चुनाव की परवाह है. कैसे हैकिंग की जाए, कैसे हेरफेर की जाए, कैसे चुनाव में धांधली की जाए… मुझे लगता है कि उन्हें शासन के लिए अधिक समय देना चाहिए, बयानबाजी के लिए नहीं. "

क्या है पूरा मामला?
बता दें कि पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में सोमवार को बड़ा रेल हादसा हो गया.  न्यू जलपाईगुड़ी के रंगापानी स्टेशन के पास कंचनजंगा एक्सप्रेस पर पीछे से आ रही मालगाड़ी ने टक्कर मार दी. इस हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई है.  जबकि कई यात्रियों के घायल होने की भी खबर है.

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button