मध्य प्रदेश

प्रधानमंत्री मोदी शहडोल चखेंगे कोदो का भात और कुटकी की खीर का स्वाद

भोपाल
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के  भोपाल और शहडोल आगमन पर बीजेपी सरकार और संगठन ने पलक पांवड़े बिछा दिए हैं। भोपाल के कार्यक्रम स्थलों का निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शहडोल पहुंचे हैं। राजधानी में पीएम के स्वागत के लिए रानी कमलापति स्टेशन से मोतीलाल नेहरू स्टेडियम तक सड़क पर बड़े कटआउट और पोस्टर बैनर लगाकर प्रधानमंत्री की स्वागत की तैयारी की जा रही है। उधर शहडोल में प्रधानमंत्री जिस गांव में आदिवासियों के बीच पहुंचेंगे उस गांव में सुरक्षा और अन्य मांगों के साथ प्रधानमंत्री के भोजन के इंतजाम भी किए जा रहे हैं। सरकार द्वारा प्रधानमंत्री को कुटकी कोदो का भात और विंध्य की प्रसिद्ध इंदरहर की कढ़ी खिलाने की तैयारी है। पीएमओ की परमिशन मिलते ही इसे प्रधानमंत्री को भोजन के रूप में परोसा जाएगा।

शहडोल जिले के पकरिया गांव के जल्दीटोला में पीएम के भोज की तैयारी भी जोर शोर से चल रही है। राज्य सरकार द्वारा जो मेन्यू तैयार किया गया है उसमें पीएम मोदी को दिए जाने वाले पेय पदार्थ में रोजलेट्टा (अमरु) का शरबत, बेल शरबत, आम का पना शामिल किया गया है। कोदो भात, कुटकी खीर, ज्वार मक्के की रोटी, इंदरहर की कढ़ी, कमल ककड़ी की सब्जी, हल्दी का अचार और महुआ के व्यंजन में खीर या लड्डू को मेन्यू में शामिल किया गया है। सारा खाना चूल्हे पर बनेगा। सारे भोजन की जांच पीएम के सुरक्षा मानकों के अनुरूप की जाएगी। पीएमओ से सहमति मिलने के बाद ही इसे भोजन के लिए परोसा जाएगा।

सभा स्थल का फेस पिछले बार के दौरे के विपरीत होगा
सीएम चौहान रविवार को शहडोल पहुंचे और पकरिया तथा लालपुर के सभा स्थल का जायजा लिया। पकरिया गांव में रामसिया के घर के सामने बाड़ी में बिना छपाई हुए बाउंड्रीवाल की भी पुताई की गई। बताया जाता है कि पीएम मोदी इसी रास्ते से बगीचे तक पहुंचेंगे और संवाद करेंगे। इधर बगीचे में प्रकाश व्यवस्था व दूसरे निर्माण कार्य प्रारंभ हैं। पकरिया गांव के बरटोला में लोगों के घरों के बाहर हितग्राही का नाम और शासन से मिलने वाली योजना का लाभ अंकित किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी लालपुर मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे। इस बार मंच का सामना (फेस) दूसरी दिशा में होगा। वर्ष 2018 के दौरे के वक्त हुए कार्यक्रम में मैदान में जिस तरफ पब्लिक बैठती थी, इस बार वहां पर हेलीपेड बनाया जा रहा है। जहां हेलीपेड होता था, वहां बैठकर लोग पीएम मोदी को सुनेंगे। मंच की दूसरी दिशा को लेकर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि ऐसा एसपीजी के निर्देश पर हो रहा है। दरअसल लालपुर में कार्यक्रम के बाद पीएम पकरिया गांव जाएंगे। ऐसे में सभा के बाद पीएम आसानी से मंच से उतरकर पकरिया जा सकें, इसलिए पब्लिक को दूसरी दिशा में बैठाने की व्यवस्था की गई है।

भोपाल में ऐसे होगा कार्यक्रम
 27 जून को भोपाल से 8-8 कोच वाली दो वंदे भारत ट्रेन रवाना करेंगे। इसके अलावा तीन अन्य वंदे भारत ट्रेनों को भी पीएम मोदी भोपाल से ही वर्चुअली हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इसके बाद मोदी मोतीलाल नेहरू स्टेडियम पहुंचेंगे और वहां देश भर के सभी जिलों से आए भाजपा के बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button