देश

गुजरात में आगे बढ़ा मानसून, मछुवारों को समुद्र में जाने पर रोक, रेड अलर्ट जारी

गांधीनगर
दक्षिण-पश्चिम मॉनसून इस साल समय पर तटीय गुजरात के दक्षिणी हिस्सों पर पहुंच गया था लेकिन कई दिनों से मॉनसून नवसारी से आगे नहीं बढ़ पाया. हालांकि मॉनसून आगे बढ़ते हुए उत्तरी सीमा वेरावल, भरूच, राजपीपला, छोटा उदयपुर और वहां से मध्य प्रदेश तक पहुंच गया है. लेकिन प्रेदश का अधिकांश हिस्सा अभी भी मॉनसून की दस्तक से अछूता है. आमतौर पर मॉनसून की धारा 20 जून को अहमदाबाद, 25 जून को राजकोट और 30 जून तक कच्छ पहुंच जाती है लेकिन इस बार मॉनसून में देरी हो रही है.

गुजरात में अटका मॉनसून

बता दें कि इस बार 11 जून को गुजरात में मॉनसून की एंट्री हुई थी. लेकिन उसके बाद से ही इसकी रफ्तार पर ब्रेक लगा हुआ है. अब गुजरात में मॉनसून के आने से पहले प्री-मॉनसून बारिश देखी जा रही है. साउथ गुजरात में साइक्लोनिक सर्कुलेशन की वजह से गुजरात के कई शहरों में भारी बारीश की चेतावनी दी गई है. साथ ही में मौसम विभाग की तरफ से कहा गया है कि समुद्री इलाक़ों में हवाओं की गति 35 किलोमीटर प्रति घंटे रहेगी. अगले दो दिन मछुवारों को समुद्र में जाने से मना किया गया है.

Related Articles

इन इलाकों में आज भारी बारिश का खतरा

आज सौराष्ट्र और गुजरात में कई जगहों पर भारी बारिश होने की संभावना है. साबरकांठा, बनासकांठा, मेहसाणा, दाहोद, पाटन, खेड़ा, गांधीनगर, अहमदाबाद, वडोदरा, भावनगर, महुवा, अमरेली, जूनागढ़, सोमनाथ और वेरावल में भारी बारिश का खतरा है. इस दौरान कच्छ की खाड़ी के तटीय स्टेशनों पर हल्की से मध्यम वर्षा होगी.

मौसम विभाग की मानें तो गुजरात पर अगले 24 घंटे बेहद भारी गुजरने वाले हैं। मौसम विभाग ने गुजरात के विभिन्न जिलों में भारी से ज्यादा भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। खासतौर पर गुजरात रीजन के विभिन्न हिस्सों में अगले 24 घंटे के दौरान तूफानी हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। 

IMD का कहना है कि गुजरात रीजन के विभिन्न हिस्सों में 26 से 28 जून के दौरान मूसलाधा बारिश देखी जाएगी। इसको लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने 25 जून को गुजरात रीजन के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि गुजरात रीजन में भारी बारिश का दौर 28 जून तक जारी रहेगा।

मौसम विभाग की ओर से जारी वेदर अपडेट में कहा गया है कि अगले 24 घंटे के दौरान सौराष्ट्र और कच्छ के विभिन्न इलाकों में भारी से ज्यादा बारिश देखी जाएगी। इसको लेकर भी मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया गया है। सौराष्ट्र और कच्छ के विभिन्न इलाकों में 26 जून तक मौसम खराब रहेगा। सौराष्ट्र और कच्छ में 25 से 26 जून के दौरान भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग ने 24 जून के लिए गुजरात के तापी, जूनागढ़, अमरेली, भावनगर, गिर सोमनाथ और दीव में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। दादर नगर हवेली, दमन, जामनगर, देवभूमि द्वारका में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं बाटोद में जोरदार बारिश को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि 28 जून से लोगों को खराब मौसम से राहत मिलनी शुरू हो जाएगी।

28 जून तक के लिए अलर्ट

    मौसम विभाग ने 25 जून के दिन गुजरात के बनासकांठा, साबरकांठा, नर्मदा, डांग, नवसारी, वलसाड, तापी में भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया है.
    मौसम विभाग ने 26 जून के दिन गुजरात के पंचमहाल, वडोदरा, छोटाउदेपुर, गीर सोमनाथ, अमरेली में बारिश का अनुमान व्यक्त किया है.
    मौसम विभाग ने 27 जून के दिन गुजरात के नवसारी, वलसाड, डांग, तापी, दमन, दादरा और नगर हवेली में बारीश का अनुमान व्यक्त किया है.
    मौसम विभाग ने मुताबिक 28 जून के दिन गुजरात के भरूच, नवसारी, वलसाड, दमन, दादरा और नगर हवेली में बारीश का अनुमान व्यक्त किया है.

मौजूदा बारिश के बाद जून के आखिर में एक छोटा ब्रेक लगेगा और इसके बाद दूसरा बारिश का दौर शुरु हो जाएगा. जो मॉनसून को सौराष्ट्र के अधिकांश हिस्सों के साथ उत्तर और मध्य गुजरात के अंदरूनी हिस्सों तक आगे ले जाएगा.

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button