मध्य प्रदेश

वंचित और आकांक्षी लोगों तक समयबद्ध तरीके से पहुँचेगा योजनाओं का लाभ

राष्ट्रपति से प्राप्त राष्ट्रीय अवार्ड की दी जानकारी

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आज मुख्यमंत्री निवास में नि:शक्तजन आयुक्त संदीप रजक ने भेंटकर हाल ही में राष्ट्रपति से प्राप्त राष्ट्रीय अवार्ड की जानकारी दी। रजक ने बताया कि मध्यप्रदेश को दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम के प्रभावी क्रियान्वयन, दिव्यांगजन के शिक्षण, पुनर्वास, रोजगार, स्वरोजगार, खेल और बाधा रहित वातावरण के निर्माण के क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए पुरस्कृत किया गया है। इसके साथ ही मध्यप्रदेश यूडीआईडी कार्ड बनाने में भी अग्रणी है। मुख्यमंत्री चौहान ने नि:शक्तजन आयुक्त एवं उनके विभागीय अमले को इस अवार्ड के लिए बधाई दी।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, भारत सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस, 3 दिसम्बर को नई दिल्ली में मध्यप्रदेश के नि:शक्तजन आयुक्त को दिव्यांग कल्याण क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य के लिए पुरस्कृत किया। राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने ये पुरस्कार प्रदान किए। मध्यप्रदेश को सुगम्य भारत अभियान के क्रियान्वयन के लिए भी सम्मानित किया गया। मध्यप्रदेश में जिलास्तर पर चलित न्यायालय और विशेष बैठकों के साथ ही दिव्यांगजन की समस्याओं के निराकरण के लिए जनजागरूकता कार्यक्रम और शिविर लगाने की गतिविधियां भी संचालित हुईं। जिसके फलस्वरूप कल्याणकारी योजनाओं से दिव्यांगजन को जोड़ने में सफलता मिली। प्रदेश के शासकीय और अशासकीय संगठनों का सहयोग भी प्राप्त हुआ।

वंचित और आकांक्षी लोगों तक समयबद्ध तरीके से पहुँचेगा योजनाओं का लाभ

जन-सामान्य में योजनाओं के प्रति आयेगी जागरूकता
यात्रा को परिणाममूलक बनाने 4 स्तर पर समितियाँ गठित

भोपाल

जन-कल्याण की प्रमुख योजनाओं का लाभ लक्षित लाभार्थियों तक समयबद्ध तरीके से पहुँचाने के लिये केन्द्र सरकार द्वारा “विकसित भारत संकल्प यात्रा’’ निकाली जा रही है। इस यात्रा से यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि प्रमुख योजनाओं के प्रति जन-सामान्य में जागरूकता पैदा हो। यात्रा के दौरान योजनाओं का फीडबेक भी लिया जायेगा। साथ ही योजनाओं संबंधी आवेदन प्राप्त कर लाभार्थियों का नामांकन एवं चयन होगा। विकसित भारत संकल्प यात्रा को शत-प्रतिशत परिणाममूलक बनाने के लिये 4 स्तर पर समितियाँ गठित की गई हैं।

जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति

विकसित भारत संकल्प यात्रा के सफल क्रियान्वयन के लिये जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति गठित की जायेगी। यह समिति तिथिवार, पंचायतवार रूटचार्ट एवं कार्यक्रमों का निर्धारण करेगी। जिले से कार्यक्रम की मॉनीटरिंग, प्रचार-प्रसार, समन्वय एवं रिपोर्टिंग आदि का कार्य करेगी। इस समिति में जिला कलेक्टर अध्यक्ष होंगे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सदस्य सचिव एवं समिति के सदस्यों में विकास विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, भारत सरकार के अधीन विभाग के 2 नामित सदस्य, अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं कलेक्टर द्वारा नामित अन्य सदस्य शामिल होंगे।

नगरीय निकाय स्तर की समिति

विकसित भारत संकल्प यात्रा के सफल क्रियान्वयन के लिये द्वितीय स्तर पर नगरीय निकाय स्तरीय समिति गठित की जायेगी। नगरपालिका एवं नगर निगम में कलेक्टर अध्यक्ष होंगे और नगर परिषदों में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) को अध्यक्ष बनाया गया है। आयुक्त नगरपालिक निगम अथवा मुख्य नगरपालिका अधिकारी (नगर परिषद) सदस्य सचिव होंगे। विकास विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी सदस्य होंगे। इसके अलावा कलेक्टर, अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) एवं आयुक्त नगरपालिका द्वारा नामांकित अन्य सदस्य समिति के सदस्य होंगे। यह समिति नगरीय क्षेत्र में विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत कार्यक्रम की मॉनीटरिंग, प्रचार-प्रसार, समन्वय, रिपोर्टिंग आदि कार्य करेगी।

जनपद पंचायत स्तरीय क्रियान्वयन समिति

विकसित भारत संकल्प यात्रा के अंतर्गत जनपद स्तरीय कार्यक्रम के क्रियान्वयन एवं मॉनीटरिंग के लिये जनपद स्तरीय क्रियान्वयन समिति गठित की जायेगी। इस समिति के अध्यक्ष अनुविभागीय अधिकारी राजस्व होंगे एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समिति के सदस्य सचिव होंगे। विकास विभागों के खण्ड स्तरीय अधिकारी एवं अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) द्वारा नामांकित व्यक्ति समिति के सदस्य होंगे।

ग्राम पंचायत स्तरीय समिति

विकसित भारत संकल्प यात्रा के अंतर्गत ग्राम पंचायत स्तर पर कार्यक्रम के क्रियान्वयन एवं मॉनीटरिंग के लिये ग्राम पंचायत स्तर पर समिति गठित की जायेगी। ग्राम पंचायत के सरपंच समिति के अध्यक्ष होंगे एवं पंचायत सचिव समिति के सदस्य सचिव तथा विकास विभागों के समस्त पंचायत स्तरीय अधिकारी समिति के सदस्य होंगे।

विद्युत मंत्रालय भारत सरकार सचिव ने मध्यप्रदेश पॉवर सेक्टर के कार्यों की सराहना

भोपाल

भारत सरकार विद्युत मंत्रालय के सचिव पंकज अग्रवाल ने मध्यप्रदेश के पॉवर सेक्टर में विद्युत उपभोक्ताओं के हित में चलाई जा रही योजनाओं और विद्युत प्रणाली सुदृढ़ीकरण के लिए आरडीएसएस योजनान्तर्गत किये जा रहे विकास कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के सरल संयोजन पोर्टल के माध्यम से ढाई दिन के भीतर उपभोक्ताओं को घर बैठे नवीन कनेक्शन मिलना अनूठी पहल है। अग्रवाल ने आरडीएसएस योजना में सर्वे से लेकर भुगतान करने की मानवीय हस्तक्षेप रहित सूचना प्रौद्योगिकी आधारित व्यवस्था की सराहना की। अग्रवाल को कंपनी द्वारा इनहाउस विकसित की गई सूचना प्रौद्योगिकी एप्लीकेशन्स और एप की जानकारी और कार्यों से अवगत कराया गया।

पंकज अग्रवाल ने मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी मुख्यालय स्थित कंपनी के केन्द्रीकृत कॉल सेन्टर 1912 एवं स्काडा कंट्रोल सेन्टर का अवलोकन किया। अग्रवाल ने अवलोकन के दौरान उपभोक्ताओं को प्रदाय की जा रही विद्युत आपूर्ति, ट्रिपिंग और फॉल्ट की निगरानी, रेस्टोरेशन की प्रक्रिया और मॉनीटरिंग व्यवस्था के साथ ही उपभोक्ता शिकायतों को दर्ज करने और त्वरित निराकरण की प्रक्रिया का अवलोकन किया और स्काडा कन्ट्रोल सेन्टर एवं कॉल सेन्टर की व्यवस्था की सराहना की। प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे, मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक गणेश शंकर मिश्रा सहित मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारी उपस्थित थे।

 

 

 

मुख्यमंत्री चौहान से विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों ने की भेंट

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से समत्व भवन, मुख्यमंत्री निवास में विधान सभा के लिए नवनिर्वाचित सदस्यों ने भेंट की। मुख्यमंत्री चौहान ने सभी नवनिर्वाचित सदस्यों को बधाई दी और सभी के उज्जवल भविष्य की कामना की।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button