देश

करनाल से होकर गुजरी राहुल गांधी की पदयात्रा, हरियाणा-पंजाब के खिलाड़ियों का देखा कबड्डी मैच

करनाल
राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 7 जनवरी को हरियाणा के करनाल जिले से होकर गुजरी। इस यात्रा में ओलंपिक पदक विजेता मुक्केबाज विजेंदर सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा तथा रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित बड़ी संख्या में लोग पदयात्रा में शामिल हुए। बता दें कि यात्रा पानीपत से करनाल जिले में पहुंची जहां सैकड़ों की संख्या में लोगों ने राहुल गांधी के साथ पदयात्रा की।

राहुल गांधी ने कबड्‌डी मैच देखा
भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता ने हरियाणा के करनाल में कबड्डी मैच भी देखा। वह फिलहाल अपनी भारत जोड़ो यात्रा के लिए राज्य में मौजूद हैं। राहुल गांधी अपने समर्थकों के साथ मैच देखने के लिए काफी उत्साहित नजर आए। बता दें कि ये कबड्डी मैच कंबोपुरा गांव में आयोजित किया गया था।
 
'पदक जीतो और नौकरी पाओ' की नीति हुई खत्म
इस बीच एथलीटों के साथ अपनी बातचीत पर, हुड्डा ने समाचार एजेंसी ANI को बताया, 'राहुल गांधी को सभी ने बताया कि वर्तमान सरकार की खेल नीति के तहत, खिलाड़ियों को खेल कोटे पर नौकरी पाने से प्रतिबंधित कर दिया गया है। पहले हर विभाग में खेल कोटे के तहत में भर्ती होती थी। अब केवल 3.3 फीसदी नौकरियां कोटा पर दी जा रही हैं। 'पदक जीतो और नौकरी पाओ' की नीति को खत्म कर दिया गया है।"  हुड्डा ने चेतावनी दी कि अगर ऐसी नीतियां जारी रहीं तो देश को बड़ा नुकसान होगा। हुड्डा ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा का व्यापक प्रभाव पड़ा है और राज्य को खेलों में आरक्षण नीति को खत्म करने पर पुनर्विचार करना चाहिए।

'पदक लाओ पद पाओ' नीति को करेंगे बहाल
अपनी यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि अगर हम राज्य में अपनी सरकार बनाते हैं, तो हम 'पदक लाओ पद पाओ' नीति को बहाल करेंगे। कबड्डी खिलाड़ी दीपक निवास हुड्डा ने भी राहुल गांधी से मुलाकात की और कहा, 'मैं राहुल जी से राजस्थान में भी मिला था। किसी ने भी एथलीटों से इस तरह की बात पहले कभी नहीं की। वह एथलीटों और पुरस्कार विजेताओं से मिले। उद्देश्य चीन और अमेरिका की तरह एक मजबूत खेल राष्ट्र बनना है। वह जानना चाहता है कि वहां पहुंचने के लिए हमें क्या करने की जरूरत है।" बता दें कि भारत जोड़ो यात्रा 5 जनवरी की शाम को हरियाणा में फिर से प्रवेश कर गई है और 5-10 जनवरी के बीच राज्य के चार जिलों से होकर गुजरेगी।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button