दिल्लीदेश

आतंकी फैजल पाकिस्तानी उच्चायोग के संपर्क में,एनआईए को मिले साक्ष्य

दिल्ली। पाकिस्तानी उच्चायोग से आतंकी साजिश रचने का शक है। जम्मू के खटीकां तालाब से गिरफ्तार आतंकी फैजल मुनीर से हो रही पूछताछ में कई सनसनीखेज जानकारियां सामने आ रही हैं। एनआईए द्वारा मुनीर से हो रही पूछताछ में पता चला है कि उसके पाकिस्तानी उच्चायोग में भी लिंक हैं।

जांच में यह भी पता चला है कि वह पाकिस्तान के लिए जम्मू-कश्मीर में मौजूदा समय में सबसे बड़े मददगार के रूप में काम कर रहा था, जो कश्मीर में मौजूद आतंकियों तक हथियार, पैसा और विस्फोटक पहुंचा रहा था। 18 जुलाई 2022 को पुलिस ने जम्मू के खटीकां तालाब से लश्कर आतंकी फैजल उल मुनीर को गिरफ्तार किया था।

जो जम्मू और कठुआ इलाके में पाकिस्तान के भेजे गए 14 ड्रोन से हथियार लेकर कश्मीर पहुंचा चुका था। वह 2002 में जम्मू में हुए ग्रेनेड हमले में भी शामिल था। एक तरह से यह जम्मू में ड्रोन से भेजे जाने हथियारों को लेने और आतंकियों तक पहुंचाने का मुख्य जरिया था।

इस मामले की जांच अब एनआईए कर रही है। एनआई की पूछताछ में कुछ ऐसे सबूत मिले हैं, जिससे यह पता चला है कि उसकी पाकिस्तानी उच्चायोग में मौजूद कुछ लोगों से बात होती थी। किन लोगों से पूछताछ होती है, इसका पता लगाया जा रहा है। 

धमाके की आवाज सुनी, नहीं तो टीवी पर देख लेना

आतंकी फैजल का जम्मू वायुसेना स्टेशन पर हुए ड्रोन हमले में भी हाथ होने का शक है। उससे पूछताछ में कुछ ऐसी जानकारियां मिली हैं, जो इशारा करती हैं कि उसे हमले की जानकारी थी। हालांकि अभी वह इस बात को कबूल नहीं कर रहा। 26 और 27 जून 2021 को वायुसेना स्टेशन पर दो ड्रोन ने हमला किया था।

आतंकी फैजल ने एनआईए की पूछताछ में बताया कि इसी रात हमले के तुरंत बाद पाकिस्तान में बैठे हैंडलर ट्रंप ने उसे फोन किया। उससे पूछा कि उसे किसी धमाके की आवाज आई है। उसने कहा कि मैंने नहीं सुनी। फिर से पूछा कि क्या हुआ है।

इस पर हैंडलर ने आगे से कहा कि अगर नहीं आई तो कोई बात नहीं। थोड़ी देर बाद न्यूज चैनल पर सुन लेना या फिर अखबार पढ़ लेना। सबकुछ पता चल जाएगा। इसके बाद उसे पता चला कि वायुसेना स्टेशन पर हमला हुआ है। 

30 से अधिक ड्रोन से गिराए हथियार पहुंचाए

सूत्रों का कहना है कि पिछले 2 साल से जम्मू संभाग में पाकिस्तान द्वारा ड्रोन से भेजे जाने वाले हथियारों को आतंकियों तक फैजल मुनीर पहुंचा रहा था। पकड़े जाने से पहले वह 30 ड्रोन से आए 50 पिस्टल, 30 आईईडी, 10 राइफलें अपने गुर्गों के जरिये और खुद पहुंचा चुका था। 20 जून 2020 को कठुआ के मनियारी में ड्रोन मार गिराया गया था। यह ड्रोन मुनीर के कहने पर ही आया था।

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Show More

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button