मध्य प्रदेश

शाजापुर जिले की पारेषण क्षमता में हुई वृद्धि

एमपी ट्रांसको ने ऊर्जीकृत किया कालापीपल में 50 एमव्हीए क्षमता का पावर ट्रांसफार्मर

भोपाल

एमपी ट्रांसको (मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी) ने शाजापुर जिले में अपनी विद्युत पारेषण क्षमता (ट्रांसफॉरमेशन केपेसिटी) में बढ़ोत्तरी करते हुए 132 केवी सब स्टेशन कालापीपल पर 3.5 करोड़ रुपए की अनुमानित लागत से 50 एमव्हीए क्षमता का नया पावर ट्रांसफार्मर ऊर्जीकृत किया है। जिससे सब स्टेशन की कुल स्थापित क्षमता बढ़ कर 90 एमव्हीए की हो गई है।

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया कि इस ट्रांसफार्मर से विद्युत आपूर्ति शुरू हो जाने से क्षेत्र के तकरीबन 22000 कृषि एवं घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को फायदा पहुँचेगा। अब उन्हें उच्च गुणवत्तापूर्ण विद्युत सप्लाई समुचित वोल्टेज पर उपलब्ध रहेगी। इस नए 50 एमव्हीए ट्रांसफार्मर के स्थापित हो जाने से कालापीपल सब स्टेशन को अब एक अतिरिक्त ट्रांसफार्मर की सुविधा भी प्राप्त हो गई है। ऊर्जा मंत्री तोमर ने क्षेत्र के विद्युत उपभोक्ताओं के लिए अति आवश्यक इस ट्रांसफार्मर को ऊर्जीकृत करने के लिए एम पी ट्रांसको के कार्मिकों को बधाई दी है।

33 केव्ही के पांच फीडरों से होती है विद्युत आपूर्ति

एमपी ट्रांसको शाजापुर के कार्यपालन अभियंता निर्दोष केरकेटा ने बताया कि 132 केवी सब स्टेशन कालापीपल से एम पी ट्रांसको 33 केव्ही के 5 फीडरों के माध्यम से विद्युत आपूर्ति करती है। इनमें कालापीपल , नांदनी ,घट्टी, लसूदलिया गौरी एवं लायंस फैब्रिक्स शामिल हैं। शाजापुर जिले में एम पी ट्रांसको अपने 220 केवी के दो सब स्टेशनों और 132 केव्ही के 9 सब स्टेशनों के माध्यम से विद्युत पारेषण करती है। अब शाजापुर जिले की कुल विद्युत पारेषण (ट्रांसफॉरमेशन) क्षमता बढ़कर 1566 एमव्हीए की हो गई है, जिसमें 220 केव्ही साइड 800 एमव्हीए है तथा 132 केव्ही साइड 766 एमव्हीए की स्थापित क्षमता शामिल है।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button