मध्यप्रदेश

इंडियन ऑयल कंपनी मीना फर्म के द्वारा वर्करों के साथ हो रहे शोषण पर आज तक नहीं हो रहा ठेकेदारों के ऊपर कार्यवाही

मंडला
औद्योगिक क्षेत्र मनेरी मैं संचालित इंडियन ऑयल कंपनी के मीना फर्म के जिम्मेदार द्वारा विगत दिनों से वर्करों के साथ शोषण किया जा रहा है वहीं कुछ दिनों पहले मंडला कलेक्टर एवं एसडीएम निवास व लेवर इंस्पेक्टर मंडला को मजदूर संघ अध्यक्ष घनश्याम सूर्यवंशी ने संघ के माध्यम से जो मीना फर्म के जिम्मेदार  इंद्रेश पटेल के खिलाफ आवेदन दिया गया था। परंतु आज तक शासन-प्रशासन व विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों ने संज्ञान में नहीं लिया गया है। जो कि मजदूर वर्करों के साथ विभिन्न अवस्थाओं से फर्म के जिम्मेदारों के द्वारा शोषण किया जा रहा है।

मजदूर संघ का कहना है कि इंडियन पिलांट से इंद्रेश पटेल को निकाला जाय क्योंकि विगत दिनों से वर्करों के साथ शोषण करता है और  वर्करों की 26 ड्यूटी की जगह 22 ड्यूटी करवाता है और  सरकारी छुट्टी का पैसा नही देता और 9बजे से 5 बजे तक पेलांट चलाने का है। तो  कमीशनखोरी के चक्कर में पटेल ने 9 बजे से 5,30तक पेलंट चलता है साथ ही आधा घंटे का ओटी भी नही देता, और इसमें भी आधा घंटे का लंच देता है लेकिन इंडियन ऑयल  बोर्ड में समय सारणी 9 बजे से 5बजे तक का लिखा हुआ है और एक घंटे का लंच मिलता है पर इंद्रेश पटेल द्वारा बंद कर दिया गया है और गांडनीग और सेड के अंदर काम करने वाले वर्करों से हेल्डिंग का काम करवाता है  सेप्टी में पूरी तरह से लापरवाही है

 कंपनी में एक भी उपचार का सामान नहीं है  और फर्म के समस्त वर्करों की  सुरक्षा में ध्यान नहीं देखता है और चोटिल वर्करों का कोई उपचार नही होता वर्कर खुद उपचार करवाते हैं  और मीना पेलंट द्वारा अभी तक मजदूरों का कोई भी इंसोरेंस नही करवाया गया है और 22 ड्यूटी करने में 1 छूटी का पैसा मिलता है पर इंद्रेश पटेल  नही देने देता मीना कंपनी ने सभी मजदूरों को आ कुशल में रखा है एक साल से ज्यादा हो रहा है परन्तु कोई भी लड़का अर्ध कुशल में नही है ना कुशल में है सभी मजदूरों का एक ही समान है। इंडियन ऑयल में जो सरकारी सुविधा है और जो नियम है बो लागू की जय और इंद्रेश पटेल के गंभीर लापरवाही को देखते हुए फर्म से निकाला जाए ।।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button