खेल

 रणजी ट्रॉफी मैच में पृथ्वी शॉ का धमाल, तिहरा शतक जड़कर फिर खटखटाया टीम इंडिया का दरवाजा

गुवाहाटी
 चयनकर्ताओं द्वारा लगातार अनदेखी किए जाने के बावजूद युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ का घरेलू क्रिकेट में धमाल जारी है। 23 वर्षीय पृथ्वी ने असम के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मुकाबले में शानदार तिहरा शतक जड़कर एक बार फिर भारतीय टीम में एंट्री के लिए दस्तक दे दी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैच की घरेलू सीरीज से पहले शॉ को अनदेखा कर पाना चयनकर्ताओं के लिए आसान नहीं होगा।

मुंबई के लिए रणजी में सबसे बड़ी पारी

भारत को अंडर-19 विश्व कप दिलाने वाले कप्तान पृथ्वी शॉ ने असम के खिलाफ आतिशी बल्लेबाजी करते हुए मुंबई के लिए रणजी इतिहास का सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी खेल दी। खबर लिखे जाने तक वो 379*(382) रन बनाकर नाबाद हैं। इस दौरान उन्होंने 49 चौके और 4 छक्के जड़े। रन बनाकर नाबाद थे। पृथ्वी ने शानदार शुरुआत करते हुए 107 गेंद में अपना शतक पूरा किया। इसके बाद 235 गेंद में इसे दोहरे शतक में तब्दील कर दिया। इसके बाद उन्होंने अपनी इस शानदार पारी को जारी रखते हुए 326 गेंद में अपने करियर का पहला तिहरा शतक भी पूरा कर लिया।

रणजी में मुंबई के लिए तिहरा शतक जड़ने वाले सबसे युवा
पृथ्वी शॉ रणजी ट्रॉफी में मुंबई के लिए तिहरा शतक जड़ने वाले चौथे सबसे युवा बल्लेबाज बन गए हैं। मुंबई के लिए सबसे कम उम्र में तिहरा शतक जड़ने का रिकॉर्ड वसीम जाफर के नाम दर्ज है। जाफर ने साल 1996 में 18 साल 262 दिन की उम्र में तिहरा शतक सौराष्ट्र के खिलाफ जड़ा था। इसके बाद सरफराज खान ने साल 2020 में उत्तर प्रदेश के खिलाफ 22 साल 89 दिन की उम्र में तिहरा शतक पूरा किया था। तीसरे पायदान पर रोहित शर्मा हैं उन्होंने साल 2009 में गुजरात के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा था तब उनकी उम्र 22 साल 229 दिन थी। अब पृथ्वी शॉ 23 साल 63 दिन की उम्र में तिहरा शतक जड़कर इस सूची में चौथे पायदान पर पहुंच गए हैं।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button