मध्यप्रदेश

बेटी के साथ PM प्रचंड आए इंदौर, खाए पोहे, गणगौर और भगोरिया नृत्य से हुआ स्वागत

इंदौर

प्रचंड ने CM शिवराज से कहा कि आपसे मिलकर लग ही नहीं रहा है हम पहली बार मिल रहे हैं। स्वागत से बहुत अभिभूत हूं। उन्होंने इंदौर के स्पेशल पोहे खाए। प्रचंड अपनी बेटी गंगा दहल के साथ आए हैं।

नेपाल के पीएम ई-कार्ट से कर रहे महाकाल लोक का भ्रमण
नेपाल के पीएम प्रचंड बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन पहुंचकर फिलहाल ई-कार्ट से महाकाल महालोक का अवलोकन कर रहे हैं। पीएम मोदी के आगमन के दौरान जिस तरह से खास तैयारियां और सुरक्षा व्यवस्था की गई थी, ठीक उसी तरह नेपाल के पीएम के लिए भी व्यवस्थाएं की गईं हैं। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के चाक-चौबंध इंतजाम हैं, जिसकी जहां ड्यूटी है वह पुलिसकर्मी वहीं तैनात है। किसी को भी बिना अनुमति के प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। पीएम प्रचंड महाकाल लोक के भ्रमण के बाद बाबा महाकाल की पूजा अर्चना करने के लिए मंदिर पहुंचेंगे।

उज्जैन पहुंचे नेपाल के पीएम
नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड आज बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन के दौरे पर हैं। वह इंदौर से सड़क मार्ग से होते हुए उज्जैन पहुंच गए हैं। उनका काफिला महामृत्युंजय द्वार से प्रवेश कर हरीफाटक मार्ग की ओर आगे बढ़ गया है। राज्यपाल मंगूभाई पटेल नेपाल के पीएम की अगवानी करेंगे, फिर वह राज्यपाल के साथ महाकाल लोक का भ्रमण करेंगे और इसके बाद बाबा महाकाल की पूजा करेंगे। नेपाल के पीएम के दौरे के चलते उज्जैन शहर और महाकाल मंदिर को भव्य रूप से सजाया गया है। वहीं, सुरक्षा के लिहाज से भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया है।

सीएम बोले- सांस्कृतिक रूप से भारत-नेपाल एक जैसे
वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस अवसर पर कहा कि भारत और नेपाल अत्यंत प्राचीन राष्ट्र हैं। भारत और नेपाल भले ही दो शरीर हों पर सांस्कृतिक रूप से वे एक हैं। दोनों का सांस्कृतिक वैभव और संस्कार एक जैसे हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि भारत और नेपाल के संबंध आने वाले दिनों में और भी प्रगाढ़ होंगे।

CM शिवराज ने कहा कि भारत और नेपाल अत्यंत प्राचीन राष्ट्र हैं। भारत और नेपाल भले ही दो शरीर हों, लेकिन सांस्कृतिक रूप से वे एक हैं। दोनों का सांस्कृतिक वैभव और संस्कार एक जैसे हैं। आपके आगमन से भारत और नेपाल के संबंध आने वाले दिनों में और भी प्रगाढ़ होंगे। इसके बाद इंदौर से नेपाल के PM और अन्य अतिथि उज्जैन रवाना हो गए। महाकाल दर्शन के साथ ही महाकाल लोक का भ्रमण करेंगे।

प्रचंड के साथ विदेश मंत्री नारायण प्रकाश सोद, वित्त मंत्री डॉ. प्रकाश शरन महत, ऊर्जा जल संसाधन मंत्री शक्ति बहादुर बासनेत, भौतिक व परिवहन मंत्री प्रकाश ज्वाला, वाणिज्य एवं आपूर्ति मंत्री रमेश रिजल, प्रधानमंत्री के सलाहकार हरिबोल प्रसाद, मुख्य सचिव शंकरदास बैरागी और नेपाल के विदेश सचिव भरतराज पौड्याल भी आए हैं।

गणगौर और भगोरिया नृत्य से हुआ स्वागत

प्रचंड जैसे ही अन्य अतिथियों के साथ बाहर आए तो वहां निमाड़ के गणगौर और भगोरिया नृत्य की आकर्षक व उल्लासपूर्ण प्रस्तुति के साथ अतिथियों का स्वागत किया गया। यह देख वे काफी अभिभूत हुए। इसी कड़ी में इंदौर के युवाओं के स्वर ध्वज पथक के 50 सदस्यीय दल ने ढोल-तासों और केसरिया ध्वज के साथ उद्घोष करते हुए उनका स्वागत किया। प्रचंड उज्जैन से दोपहर करीब 2 बजे इंदौर लौटेंगे। यहां वे होटल मैरिएट में ठहरेंगे और जनप्रतिनिधियों व गणमान्य नागरिकों से मुलाकात करेंगे। शाम को वे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट जाएंगे। रात को वे होटल मैरिएट में भोजन करेंगे। इस दौरान उन्हें इंदौर के प्रसिद्ध व्यंजन परोसे जाएंगे।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button