देश

विपक्ष ने भारतीय रेलवे की सिग्नलिंग और सेफ्टी सिस्टम पर उठाया सवाल, रेल मंत्री के इस्तीफे की मांग की

नई दिल्ली
ओडिशा के बालेश्वर में कोरोमंडल एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्‍त होने से अब तक 233 यात्रियों की मौत हो गई है। वहीं 900 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। मौके पर राहत और बचाव का काम अब भी जारी है। हादसे की जानकारी मिलने के बाद राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने दुख जाहिर किया। वहीं, विपक्षी दल के नेताओं ने भी शोक व्यक्त करते हुए रेलवे की सिग्नलिंग प्रणाली पर सवाल उठाया है, जिसके कारण कथित तौर पर यह दुर्घटना हुई।

टीएमसी के प्रवक्ता ने उठाए सवाल

टीएमसी के प्रवक्ता साकेत गोखले ने ट्वीट कर शोक जताया और रेलवे की सिग्नलिंग विफलता पर भी सवाल उठाया। उन्होंने लिखा, 'ओडिशा में कोरोमंडल एक्सप्रेस और यशवंतपुर-हावड़ा ट्रेन दुर्घटना की दुखद खबर सुनकर स्तब्ध और व्यथित हूं। प्रभावित लोगों और उनके परिवारों के लिए मेरी प्रार्थना। एक कथित सिग्नलिंग विफलता के कारण 3 ट्रेनें दुर्घटनाग्रस्त हो गई, यह विश्वास से परे चौंकाने वाला है। गंभीर सवाल हैं, जिनका जवाब देने की जरूरत है।'

Related Articles

सिग्नलिंग और सेफ्टी सिस्टम पर उठे सवाल
भाकपा (माले) के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने भी रेल हादसे को लेकर कई सवाल उठाए है। उन्होंने लिखा, 'क्या भारतीय रेलवे में अब कोई सिग्नलिंग और सेफ्टी सिस्टम नहीं है? या क्या इस तरह की भयानक त्रासदी भारत में रेल यात्रा के लिए नया सामान्य हो जाएगा? हम पीड़ितों और इस हादसे में अपनों को खोने वाले परिवारों को जवाब देने के तत्पर है।'

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के इस्तीफे की मांग
सीपीआई सांसद बिनॉय विश्वम ने इस घटना को लेकर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के इस्तीफे की मांग की है। विश्वम ने एक ट्वीट में कहा, 'सरकार का फोकस सिर्फ लग्जरी ट्रेनों पर है। आम लोगों की रेलगाड़ियों और पटरियों को नजरअंदाज किया जा रहा है। उड़ीसा में मौतें उसी का परिणाम हैं। रेल मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए।'

भाजपा ने रद्द किए सभी कार्यक्रम
सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक ट्वीट में कहा कि दुर्घटना के मद्देनजर भाजपा ने केंद्र में अपनी सरकार के नौ साल पूरे होने के उपलक्ष्य में अपने सभी कार्यक्रमों को स्थगित करने का फैसला किया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी ने 2 जून को ओडिशा में ट्रेन हादसे पर दुख व्यक्त किया और पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं से बचाव के प्रयासों के लिए आवश्यक सभी समर्थन देने का आग्रह किया है।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button