मध्यप्रदेश

ओडिशा रेल हादसा : मोदी सरकार का संदेश-देश खड़ा है पीड़ितों के साथ, सभी कार्यक्रम निरस्त

भोपाल
 ओडिशा के बालेश्वर जिले के बाहानगा रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार शाम हुई ट्रेन दुर्घटना से देश आहत है। इस बड़ी दुर्घटना पर जहां केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की पटनायक सरकार अपनी ओर से दी जाने वाली सहायता में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं, वहीं अब राजनीतिक एवं शासन स्तर पर इस दुख भरी स्थिति में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार के सफलतम नौ वर्ष पूर्ण होने पर चलाए जा रहे भाजपा के 30 मई से 30 जून तक विशेष जनसंपर्क अभियान के अंतर्गत आयोजित शनिवार के विभिन्न कार्यक्रमों को मध्य प्रदेश सहित देश भर में स्थगित कर दिया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जिला बालाघाट का दौरा भी स्थगित हो गया है। इस दुख की घड़ी में सीएम शिवराज का कहना है कि ''ओडिशा के बालासोर में हुई रेल दुर्घटना का समाचार अत्यंत दुःखद और हृदय विदारक है। ईश्वर से शोकाकुल परिजनों को यह असीम दुःख सहन करने की क्षमता प्रदान करने तथा घायलों की कुशलता एवं शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूँ।''

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने ट्वीट कर कहा, ''ओडिशा के बालासोर में कल शुक्रवार शाम को हुआ भयावह रेल हादसा अत्यंत ही दुखद और मन को शोकाकुल कर देने वाला है। मैं इस हृदय विदारक घटना से मर्माहत हूं। इस भीषण रेल दुर्घटना को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने केंद्र सरकार के 9 वर्ष पूरे होने के अवसर पर होने वाले कार्यक्रमों के साथ-साथ देश भर में होने वाले अपने सारे कार्यक्रमों को आज के लिए स्थगित कर दिया है। मैं परमपिता परमेश्वर से शोक संतप्त परिवारों को इस असहनीय पीड़ा को सहने की शक्ति प्रदान करने की कामना करता हूं। ईश्वर मृत आत्माओं को अपने चरणों में स्थान दें। ॐ शांति।''

उल्लेखनीय है कि बालासोर दुर्घटना में अब तक 238 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 650 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। 1000 लोगों को सर एम विश्वेश्वरैया हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस में सवार कर हावड़ा पहुंचाया जा रहा है । इसके अलावा एक अन्य स्पेशल ट्रेन भी चलाई गई है जिसमें 200 यात्री सवार हैं। उसे भी हावड़ा लाया जा रहा है। दोनों ट्रेनों में सवार लोगों को खड़गपुर स्टेशन पर भोजन, पानी और चाय उपलब्ध करवाया गया हैं हावड़ा स्टेशन पर भी इन ट्रेनों के पहुंचने के बाद यात्रियों के भोजन की व्यवस्था की जाएगी।

राहत और बचाव के लिए सेना की तैनाती कर दी गई है। सेना के पूर्वी कमान के प्रवक्ता हिमांशु तिवारी ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि पूर्वी कमान के विभिन्न बेस से जवानों को घटनास्थल पर भेजा गया है ताकि जल्द से जल्द राहत और बचाव कार्य पूरा किया जा सके।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button