CGDPRछत्तीसगढ़

धान उपार्जन केन्द्रों की नोडल अधिकारी करें सतत् मॉनिटरिंग, दें रिपोर्ट-कलेक्टर श्री पी.एस.एल्मा

धमतरी। कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने सभी उपार्जन केंद्रों के लिए बने नोडल अधिकारियों को आज की समय सीमा की बैठक में फिर से हिदायत दी कि वे हर शनिवार को संबंधित उपार्जन केंद्र का निरीक्षण कर रिपोर्ट अनिवार्य रूप से खाद्य विभाग को सौंपे। इससे चालू खरीफ विपणन वर्ष में सुव्यवस्थित ढंग से किसानों से धान खरीदी में सहूलियत होगी। बैठक में कलेक्टर ने अब तक हुई धान खरीदी की अद्यतन जानकारी भी ली। बताया गया कि जिले में अब तक 48 हजार 438 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। साथ ही 187 मिलर्स का पंजीयन कस्टम मिलिंग के लिए किया गया है। इसमें 100 अरवा और 87 उसना मिलर्स शामिल हैं। मिलर्स द्वारा खरीदी केंद्रों से सीधे धान का उठाव किया जा रहा है। अब तक 46 हजार 273 मीट्रिक टन धान उठाव के लिए मिलर्स को डी.ओ. जारी किया जा चुका है। इसके एवज में मिलर्स द्वारा पांच हजार 602 मीट्रिक टन धान का उठाव किया गया है।
यह भी बताया गया कि धमतरी सहित अन्य जिलों बालोद, गरियाबंद, कांकेर, राजनांदगांव, महासमुंद और मोहला-मानपुर के लिए भी कुल 76 हजार एक मीट्रिक टन धान उठाव के लिए डी.ओ. जारी किया गया है। इसके एवज में अब तक 10 हजार 679 मीट्रिक टन धान का उठाव मिलर्स द्वारा किया गया है। कलेक्टर ने कहा कि खरीदी केंद्रों से सतत् धान का उठाव सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि अवैध धान परिवहन पर सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कड़ी निगाह रखें और ज़िले के सीमावर्ती क्षेत्रों में बने जांच चौकियों में संबंधित अधिकारी चौकसी बनाए रखें। चालू खरीफ विपणन वर्ष में समर्थन मूल्य में धान खरीदी के अलावा रबी सीजन के लिए खाद का अग्रिम उठाव भी सुनिश्चित करने कलेक्टर ने बल दिया। उन्होंने कहा कि किसानों को खाद की किल्लत ना हो, इसके लिए जरूरी है कि खाद का किसान अग्रिम उठाव करें। साथ ही रासायनिक खाद के साथ ही वर्मीं खाद का उठाव के लिए किसानों को कृषि विभाग, ज़िला पंजीयक सहकारी संस्था, नोडल अधिकारी सहकारी संस्थाएं द्वारा प्रोत्साहित किया जाए।
बैठक में कलेक्टर ने सभी नगरीय क्षेत्रों में अतिक्रमित भूमि का व्यवस्थापन जल्द करने कड़े निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दिए। उन्होंने घर-घर अभियान के तहत पटवारियों द्वारा खाताधारकों घर संपर्क करने और राजस्व प्रकरणों का निराकरण करने तथा इसे भुइंया पोर्टल में अद्यतन करने कहा। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी डॉ.विभोर अग्रवाल ने बताया कि धमतरी अनुभाग के आमदी, भोथली, छाती, बठेना, धमतरी, कोलियारी और रूद्री में अब तक कुल 70 हजार 643 खाताधारकों में से छः हजार 538 खाताधारकों से पटवारियों द्वारा सीधा सम्पर्क किया गया। इसमें 870 जाति प्रमाण पत्र, 210 फौती नामांतरण, पांच आरबीसी 6-4 और 121 अन्य प्रकरण मिले। कलेक्टर ने इसकी भूरि-भूरि प्रशंसा की। बैठक में कलेक्टर ने समय सीमा के विभागवार लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को इसका जल्द और गुणवत्तायुक्त निराकरण करने के निर्देश दिए। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी ज़िला पंचायत श्रीमती प्रियंका महोबिया सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Show More

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button