छत्तीसगढ़

नक्सलियों ने 150 बोरी तेंदूपत्ता को आग के हवाले किया

कांकेर

बडगांव थाना अंतर्गत दो अलग-अलग जगहों पर नक्सलियों ने तेंदूपत्ता फड़ में आगजनी की वारदात को अंजाम दिया है। नक्सली आगजनी से 150 बोरी में भरे तेंदूपत्ता जलकर खाक हो गई है। चौकाने वाली बात यह है कि बडगांव थाना से मात्र सौ मीटर की दूरी पर रात्रि करीबन 12 बजे नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया है।

गौरतलब है कि अब तक क्षेत्र के दर्जन भर से अधिक तेंदूपत्ता फड़ में नक्सलियों ने आगजनी की वारदात को अंजाम दिया है। इसके साथ ही नक्सलियों ने तेंदूपत्ता का सैकड़ा छह सौ रुपये नही करने वाले ठेकेदार को मार भागने का फरमान भी जारी किया है। यह सर्व विदित है कि नक्सलियों के बड़े आर्थिक स्त्रोंतों में से एक तेंदूपत्ता की लेव्ही वसूली से मिलता है, लेकिन इस वर्ष बेमौसम बारिश से बहुत ही कम मात्रा में तेंदूपत्ता की खरीदी होने से एवं तेंदूपत्ता की मांग बाजार में भी कम होने से नक्सलियों को भी इसका नुकसान उठाना पड़ा है। जिससे बौखलाये नक्सली जिस इलाके से लेव्ही नही मिला उन इलाकों में आगजनी की वारदात को अंजाम देकर वसूली के लिए दबाव बनाने में लगे हुए हैं।

Related Articles

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बडगांव थाना के पास स्थित तेंदूपत्ता फड़ में आठ से दस हथियार बन्द नक्सली रात्रि करीबन 12 बजे यहां पहुंचे और वहां काम करने वाले सभी मजदूरों को उठाया और तेंदूपत्ता को आग के हवाले कर लाल सलाम जिंदाबाद के नारा लगाते हुए फरार हो गये। इसके अलावा ग्राम मासुर में रखे तेंदूपत्ता को भी नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया है, जिससे लगभग 50 बोरे में रखे तेंदूपत्ता जलकर खाक हो गया है। नक्सली आगजनी की वारदात की जानकारी मिलने के बाद बडगांव थाना प्रभारी लक्ष्मण केंवट जवानों के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर मौके का जायजा लिया है।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button