राजस्थान

इन्वेस्टमेंट के लिए सबका स्वागत है – अशोक गहलोत

 जयपुर। इन्वेस्ट राजस्थान समिट में उद्योगपति गौतम अडानी की तारीफ करने के मुद्दे पर भाजपा कांग्रेस की आलोचना कर रही है। इसका जवाब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को दिया। उन्होंने कहा कि यह कोई प्राइवेट प्रोग्राम नहीं था। क्या वहां (समिट में) मौजूद 3,000 प्रतिनिधि कांग्रेस के थे? 

गहलोत ने कहा कि चाहे गौतम अडानी हो, मुकेश अम्बानी हो और अमित शाह के बेटे जय शाह हो, कोई भी आए और निवेश करें। हम सबका स्वागत करेंगे। हम रोजगार चाहते हैं, हम निवेश चाहते हैं। हमें कोई समस्या नहीं है। हम इन्वेस्टर्स को बेहतर मौका दे रहे हैं। नीति सभी के लिए समान है। कोई भी आए और निवेश करें। प्रदेश के युवाओं और छोटे व्यापारीगण का तो भला होगा ही, प्रदेश के युवाओं को रोजगार के साधन मिलेंगे। यह विरोध भाजपा का ठीक नहीं है। मैं इसका विरोध करता हूं। 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी अक्सर अडानी के बहाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हैं कि वे सिर्फ बड़े उद्योगपतियों की मदद करते हैं। गौतम अडानी अडानी ग्रुप के चेयरमैन होने के साथ ही एशिया के सबसे रईस व्यक्ति हैं। कांग्रेसशासित राज्य सरकार ने निवेश आमंत्रित करने के लिए इन्वेस्ट राजस्ठान समिट का आयोजन किया था, जिसमें गहलोत और गौतम अडानी एक-दूसरे के करीब बैठे दिखाई दिए थे। गौतम अडानी ने राजस्थान में अगले पांच-सात साल में 65 हजार करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की है। इसमें सीमेंट प्लांट का विस्तार, 10 हजार मेगावाट का सोलर पॉवर प्लांट लगाना और जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का अपग्रेडेशन शामिल है। 

इन्वेस्टमेंट का विरोध करना भाजपा को भारी पड़ेगा
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि भाजपा को इन्वेस्टमेंट का विरोध करना भारी पड़ेगा। प्रदेश का युवा इन्हें कभी माफ नहीं करेगा। पूरे देश में माहौल बना रहे हैं कि जाने क्या हो रहा है? गहलोत ने MSME समिट को संबोधित करते हुए कहा कि MSME बड़े उद्योगों की भी जान है। प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा MSME को मिलना चाहिए। आगामी बजट के लिए आप मुझे सुझाव दें। मैं आपके सुझावों को ध्यान में रहते हुए अगला बजट बनाउंगा। इससे युवाओ को रोजगार मिल सकेगा।  

गहलोत बोले थे गौतम भाई, बधाई भी दी थी
इन्वेस्ट राजस्थान समिट के उद्घाटन समारोह में गहलोत ने अडानी को गौतम भाई कहकर संबोधित किया था। साथ ही उन्हें दुनिया का दूसरा सबसे रईस व्यक्ति बनने पर बधाई भी दी थी। इधर गहलोत अडानी की तारीफ कर रहे थे, उधर भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे राहुल गांधी बिना नाम लिए मोदी पर अपने पूंजीवादी मित्रों को करोड़ों रुपये के लोन देने और फिर उसे माफ करने का आरोप लगा रहे थे। इसी को लेकर भाजपा हमलावर मुद्रा में आ गई है। भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्री अडानी का नाम लेकर केंद्र को कोसते हैं और अब अपनी अस्थिर सरकार के अंतिम दिनों में राजस्थान के नागरिकों के सामने तारीफ करते नहीं थक रहे। यह कांग्रेस आलाकमान के चेहरे पर करारा तमाचा ही तो है।

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Show More

khabarbhoomi

खबरभूमि एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्याप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button