खेल

नींद नहीं आई, यही सोचता रहा कि… IPL फाइनल में आखिरी ओवर डालने वाले मोहित ने सुनाई आपबीती

नई दिल्ली

चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने आपीएल 2023 की ट्रॉफी अपने नाम कर ली। गुजरात टाइटंस (जीटी) अपने खिताब का बचाव करने की दहलीज पर थी लेकिन चूक गई। जीटी को फाइनल में आखिरी ओवर में 13 रन डिफेंड करने थे लेकिन तेज गेंदबाज मोहित शर्मा ऐसा नहीं कर सके। उन्होंने 20वें ओवर की शुरुआती चार गेंदों पर महज तीन रन दिए, जिससे सीएसके की सांसें अटक गईं। चेन्नई को आखिरी दो गेंदों पर 10 रन बनाने थे। ऐसे में रविंद्र जडेजा ने पांचवीं गेंद पर सिक्स और छठी गेंद पर चौका लगाकर चेन्नई को पांचवीं बार चैंपियन बना दिया। सिक्स लॉन्ग ऑन की दिशा में गया जबकि चौका शॉर्ट फाइन के पास से निकला।

सोमवार देर तक चले फाइनल में जीटी के हारने के बाद मोहित बेहद इमोशनल हो गए। उन्हें कप्तान हार्दिक पांड्या ने गले लगाकर ढांढस बंधाया। मोहित ने मंगलवार को 20वां ओवर डालने के बाद की आपबीती सुनाई है। उन्होंने कहा कि हार के बाद उनकी नींद उड़ गई और वह सिर्फ यही सोचते रहे कि जीटी को जिताने के लिए और क्या कर सकते थे। मोहित ने इसका खुलासा इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में किया। मालूम हो कि फाइनल बारिश से प्रभावित रहा। जीटी ने 20 ओवर में 214/4 का स्कोर बनाया। इसके बाद बारिश ने काफी देर तक खलल डाला। चेन्नई को 15 ओवर में 171 का संशोधित लक्ष्य मिला था।
 
मोहित ने कहा, ''मैं सो नहीं सका। सोचता रहा क्या अलग करता जो मैच जीत जाते। क्या होता अगर मैं ऐसे गेंद या वैसे गेंद डालता? फिलहाल अच्छा फील नहीं हो रहा है। ऐसा लगा रहा है कि कुछ ना कुछ मिसिंग है। हालांकि, मैं आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा हूं।" उन्होंने 20वें ओवर को लेकर कहा, "मैं जो करना चाहता था उसे लेकर मेरा माइंड क्लियर था। नेट्स में मैंने ऐसी सिचुएशन के लिए प्रैक्टिस की थी। मैं पहले भी ऐसे सिचुएशन से गुजर चुका हूं। ऐसे में मैंने कहा कि मुझे सभी गेंद यॉर्कर डालनी चाहिए। मैं खुद को बैक किया।''

उन्होंने आगे कहा कि वह सिर्फ पैर के पास सटीक यॉर्कर डालने की कोशिश कर रहे थे लेकिन वैसा हुआ नहीं। उन्होंने कहा, ''मैं दौड़ा और फिर से यॉर्कर की कोशिश की। मैं पूरी तरह फोकस्ड रहना चाहता था। मैंने पूरे आईपीएल में यही किया। लेकिन गेंद वहां गिरी जहां उसे नहीं गिरना चाहिए था। उसके बाद जडेजा ने बल्ला अड़ा दिया। मैंने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की।'' बता दें कि मोहित पिछले साल गुजरात के साथ बतौर नेट बॉलर जुड़े थे। उन्होंने इस साल जीटी के लिए डेब्यू किया। इससे पहले, वह दिल्ली कैपिटल्स और सीएसके के लिए खेले हैं। उन्होंने आईपीएल में 100 मैचो में 119 विकेट हासिल किए हैं। मोहित ने सीएसके के खिलाफ फाइनल में जीटी के लिए सर्वाधिक विकेट चटकाए। उन्होंने 3 ओवर में 36 रन देकर तीन अहम शिकार किए। उन्होंने अजिंक्य रहाणे, अंबाती रायडू को अपने जालम में फंसाया। मोहित टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने के मामले में दूसरे स्थान पर रहे। उन्होंने 14 मैचों में 27 विकेट झटके। उनसे आगे जीटी के मोहम्मद शमी (28) रहे, जिन्होंने पर्पल कैप जीती।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button