मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री कन्या विवाह अद्भुत योजना है : मुख्यमंत्री चौहान

मुख्यमंत्री ने सिंगरौली जिले के सामूहिक विवाह सम्मेलनों में 626 जोड़ों को दिया आर्शीवाद
सामूहिक विवाह सम्मेलन में हुए वर्चुअली शामिल

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह एक अद्भुत योजना है। पहले बेटियों को और उनकी शादी को बोझ समझा जाता था। हमने गरीबों की मंशा के अनुसार मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना शुरू की। अब बेटियाँ बोझ नहीं वरदान बन गई हैं। मुख्यमंत्री चौहान सिंगरौली जिले में योजना के चितरंगी, देवसर और बेढ़न में हुए सामूहिक विवाह सम्मेलन को वर्चुअली संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में क्षेत्रीय सांसद, विधायक, जन-प्रतिनिधि, स्व-सहायता समूह की महिलाएँ और वर-वधु पक्ष के परिजन उपस्थित थे।

Related Articles

आज के सामूहिक विवाह सम्मेलनों में सिंगरौली जिले की जनपद पंचायत बैढ़न, देवसर एवं चितरंगी के 626 जोड़ों का विवाह सम्पन्न हुआ। मुख्यमंत्री चौहान ने वर-वधु के साथ परिजन को भी बधाई और शुभकामनाएँ दी।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि भारतीय संस्कृति में विवाह एक संस्कार और दो पवित्र आत्माओं का बंधन है। जन्म-जन्म का साथ है। वर-वधु एक दूसरे को आश्वस्त करते हैं कि वे एक- दूसरे का आदर-सम्मान करेंगे, प्रेम से रह कर जीवन व्यतीत करेंगे। उन्होंने कहा कि योजना में पहले हितग्राही को सामग्री दी जाती थी। अब 49 हजार रूपए का चेक दिया जाता है, जिससे वर-वधु अपनी पसंद का सामान खरीद सकें।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि केवल मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना ही नहीं, लाड़ली लक्ष्मी योजना के बाद आज महिलाओं का जवीन आसान बनाने के लिये मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना भी लागू की गई हैं। योजना में उन पात्र बेटियों को भी जोड़ा जायेगा, जिनके विवाह अभी हुए है। इसके अलावा महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए पंचायत और नगरीय निकायों में आरक्षण तथा महिलाओं के नाम अचल संपत्ति की रजिस्ट्री में विशेष छूट की व्यवस्था की गई है।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button