फिल्म जगत

प्रोड्यूसर बंटी वालिया पर 119 करोड़ के बैंक फ्रॉड केस में CBI ने दर्ज किया केस, जानें पूरा मामला

मुंबई

बॉलीवुड के जाने-माने फिल्ममेकर जसप्रीत सिंह वालिया उर्फ ​​बंटी वालिया के खिलाफ सीबीआई (CBI) ने बैंक फ्रॉड मामले में केस दर्ज किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीबीआई ने IDBI बैंक को 119 करोड़ रुपए से ज्यादा के नुकसान से जुड़े कथित बैंक फ्रॉड केस में मामला दर्ज किया है।

बंटी वालिया की गारंटी पर दिया लोन
सीबीआई अधिकारियों के मुताबिक, IDBI बैंक की ओर से की गई शिकायत में आरोप लगाया गया है कि जून 2008 में बंटी वालिया और अन्य लोगों की पर्सनल गारंटी पर GS एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (GSEPL) को संजय दत्त और बिपाशा बसु स्टारर फिल्म ‘लम्हा’ की मेकिंग के लिए फाइनेंस स्कीम के तहत 23.5 लाख डॉलर (तब करीब 10 करोड़ रुपए) का फॉरेन करंसी लोन (FCL) और 4.95 करोड़ रुपए का RTL मंजूर किया गया था।

2009 में NPA घोषित हुआ लोन
बैंक ने अपनी शिकायत में ये दावा किया है कि तय योजना के मुताबिक, फिल्म 2009 में रिलीज होनी थी, लेकिन प्रमोटर्स और एग्जीबिटर्स के बीच विवाद के चलते इसकी रिलीज डेट खटाई में पड़ गई। बैंक की ओर से कहा गया है कि 30 सितंबर, 2009 को ये अकाउंट एक नॉन परफॉर्मिंग एसेट (NPA) घोषित हो गया। इसके बाद, बैंक ने GSEPL, PVR और IDBI बैंक के बीच तीन पक्षीय समझौते का निपटारा करने के लिए दुनियाभर में फिल्म रिलीज करने का फैसला किया और PVR को डिस्ट्रीब्यूटर नियुक्त किया। साथ ही PVR से ये कमिटमेंट करवाया कि वो पोस्ट-प्रोडक्शन के लिए 8 करोड़ रुपए निवेश करेगा।

इस वजह से IDBI बैंक को उठाना पड़ा घाटा
हालांकि, अब बैंक का आरोप है कि PVR ने अपने कमिटमेंट को पूरा नहीं किया, जिससे उसे करीब 83.89 लाख रुपए का घाटा उठाना पड़ा। इसकी वजह ये थी कि कंपनी की कुल कमाई 7.41 करोड़ रुपये ही रही, जबकि प्रमोशन और डिस्ट्रिब्यूशन खर्च मिलाकर 8.25 करोड़ रुपए लगे। बैंक का ये भी आरोप है कि फॉरेंसिक ऑडिट रिपोर्ट से पता चला है कि कंपनी ने एक फर्जी प्रमाण पत्र का इस्तेमाल करते हुए बैंक के फंड्स को डायवर्ट किया।

बैंक ने लगाए धोखाधड़ी के आरोप
बैंक ने GSEPLपर धोखाधड़ी, रिकॉर्ड में हेरफेर, विश्वास के आपराधिक उल्लंघन का आरोप लगाया है, जिसके बाद इसे बैंक फ्रॉड केस माना गया है। सीबीआई ने इस मामले में बंटी वालिया, जीएसईपीएल और अन्य के खिलाफ IPC की धारा के तहत साजिश रचने और धोखाधड़ी से जुड़ी धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

बंटी वालिया ने रखा अपना पक्ष
वहीं, इस पूरे मामले में बंटी वालिया ने एक मीडिया चैनल से बातचीत में कहा है कि हम हैरान हैं कि IDBI बैंक ने सीबीआई में हमारे खिलाफ केस दर्ज कराया है, जबकि वास्तव में बैंक के खिलाफ ही रिव्यू पेंडिंग है। हमने खुद उनके खिलाफ काउंटर केस किया है। हम बताना चाहते हैं कि शिकायत में लगाए गए सभी आरोप झूठे हैं। हमें ED और न्यायिक प्रक्रिया पर पूरा भरोसा है और इसकी सच्चाई जल्द सामने आएगी।

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button