उत्तर प्रदेश

एटा के सपा नेताओं की 15 करोड़ की संपत्ति कुर्क, दो साल पहले शुरू हुई थी कार्रवाई

एटा  

एटा जिले के चर्चित सपा नेता पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव और उनके छोटे भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव की 15 करोड़ रुपये की संपत्ति मथुरा जिला प्रशासन ने मंगलवार को कुर्क कर दी। ये कार्रवाई डीएम एटा के आदेश पर की गई। 9 मार्च 2023 को सपा नेता पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव को मथुरा के जैंत थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया था। उसी दौरान पता चला कि इस इलाके में भी जुगेंद्र और उनके भाई पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव की एक बड़ी चहारदीवारी के बीच दो कोठियां बन रही हैं।

इसकी सूचना डीएम एटा को दी गई, जिसके बाद 18 अक्तूबर 2022 को एटा डीएम के आदेश पर मथुरा की तहसील सदर स्थित वैष्णोधाम मंदिर के पीछे छटीकरा व सुनरख बांगर में 0.610 हेक्टेयर में बनी संपत्ति कुर्क की गई है। यह संपत्ति सुबोध यादव पुत्र रामेश्वर सिंह यादव के नाम पर है, जिसकी वर्तमान कीमत करीब 15 करोड़ रुपये है।
 

Related Articles

सपा नेताओं पर 2021 में शुरू हुई थी कार्रवाई
सपा सरकार में अहम स्थान रखने वाले जुगेंद्र व रामेश्वर पुत्रगण लालाराम यादव निवासी अमृतपुर रघुपुरा थाना जसरथपुर, अलीगंज, एटा पर 2021 में कार्रवाई की शुरुआत हुई थी। तब दोनों पर कब्जों को लेकर संपत्ति ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई। 18 अप्रैल 2022 को कोतवाली नगर में दोनों पर गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा लिखा गया। डीएम एटा ने 17 जून 2022 को दोनों की तमाम चल-अचल संपत्तियां कुर्क करने का आदेश जारी कर दिया। इसके पालन में पुलिस और प्रशासन ने एटा से लेकर फर्रुखाबाद, आगरा, कानपुर, गाजियाबाद तक की संपत्तियां कुर्क कर दीं।

ये रहे मौजूद
कार्रवाई में राजकुमार भास्कर तहसीलदार सदर, राकेश यादव राजस्व निरीक्षक वृंदावन, डालचंद लेखपाल से सुनरख, जगन्नाथ भारद्वाज लेखपाल छटीकरा, थाना प्रभारी वृंदावन, थाना प्रभारी जैत तथा एटा से आए इंस्पेक्टर विष्णु कुमार उपस्थित थे।

 

KhabarBhoomi Desk-1

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button